Nigah Shayari अध्याय लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

Nashili Aankhen Shayari in Hindi - नजर शायरी - Nigah Shayari | अध्याय 4

दिसंबर 06, 2019


nigah shayari hindi, nigah shayari urdu, nigah pe shayari, nigah shayari, nigah shayari 2 line, nigah shayari in hindi, nigah shayari in urdu, nigah shayari rekhta, qatil nigah shayari, shayari on nigah, shayari on nigahen in english, teri nigah shayari, zehra nigah shayari
हर बार तेरी मुस्कुराती आँखों को देखता हूँ,
चला आता हूँ तेरे पास ख़यालों में उड़ते हुए..

Har Bar Teri Muskurati Ankho ko Dekhta Hun,
Chala Aata Hun Tere Pas Khayalon Me Udte Hue..


"ऐ समन्दर"
मैं तुझसे वाकिफ नहीं हूँ मगर इतना बताता हूँ,
वो आँखें तुझसे ज़्यादा गहरी हैं जिनका मैं आशिक हूँ.


"Ai Samandar"
Main Tujhse Waqif Nahin Hoon Magar Itna Batata Hoon,
Vo Aankhen Tujhse Jyada Gehre Hain Jine Ka Main Aashiq Hoon.


अगर है गहराई तो चल डुबा दे मुझ को,
समंदर नाकाम रहा अब तेरी आँखो की बारी है ..


Agar Hai Gehrai to Chal Duba De Mujh Ko,
Samandar Naakaam Raha Ab Teri Aankho Kee Baaree Hai ..


होंठों पे उल्फत का नाम होता है,
आँखों में छलकता जाम होता है,


तलवारों की ज़रूरत वहां कैसे,
जहाँ नज़रों से कत्ल-ए-आम होता है..


Honton Pe Ulfat Ka Naam Hota Hai,
Aankhon Mein Chhalakata Jaam Hota Hai,

Talwaro Ki Zaroorat Vahan Kaise,
Jahaan Nazron Se Qatal-e-aam Hota Hai..


रात बड़ी मुश्किल से खुद को सुलाया है मैंने,
अपनी आँखों को तेरे ख्वाब का लालच देकर..

Raat Badi Mushkil Se Khud Ko Sulaya Hai Maine,
Apni Aankho Ko Tere Khwab Ka Lalach Dekar.


झील अच्छा, कँवल अच्छा के जाम अच्छा है,
तेरी आँखों के लिए कौन सा नाम अच्छा है..

Jhil Accha Kanwal Accha Ke Jam Accha Hai..
Teri Ankho Ke Liye Kon Sa Nam Accha Hai..


तेरी आँखों के जादू से,
तू ख़ुद नहीं है वाकिफ़
ये उसे भी जीना सिखा देती हैं,
जिसे मरने का शौक़ हो..


Teri Aankho Ke Jadoo Se,
Tu Khud Nahi Hai Waqif,
Yeh Use Bhi Jeena Sikha Deti Hain
Jise Marne Ka Shauk Ho.


दूरियों की परवा ना कीजिये,
जब दिल चाहे बुला लीजिये,


हम ज्यादा दूर नहीं आपसे,
बस आँखों को पलकों से मिला लीजिये..


Dooriyon Ki Parwah Na Kijiye,
Jab Dil Chahe Bula Lijiye,

Ham Jyada Door Nahin Aap Se,
Bas Aankhon Ko Palko Se Mila Lijiye..


क्या कशिश थी तुम्हारी आँखों मे
तुझको देखा और तेरा हो गया..


Kya Kashish Thi Tumhari Ankhon Me,
Tujhko Dekha Aur Tera Ho Gaya..



तुम्हारी याद में आँखों का रतजगा है,
कोई ख़्वाब नया आए तो कैसे आए..

Tumhari Yad Me Ankhon Ka Ratjaga Hai,
Koi Khwab Naya Aaye To Kaise Aaye..


TAG:
nigah shayari hindi, nigah shayari urdu, nigah pe shayari, nigah shayari, nigah shayari 2 line, nigah shayari in hindi, nigah shayari in urdu, nigah shayari rekhta, qatil nigah shayari, shayari on nigah, shayari on nigahen in english, teri nigah shayari, zehra nigah shayari

Read More

Tareef Shayari on Eyes in Hindi - आँखें शायरी - Nigah Shayari | अध्याय 3

दिसंबर 02, 2019


shayari on eyes, hindi shayari, 2 line shayari on eyes, tareef shayari on eyes, shayari, sad shayari, love shayari, shayari on eyes in punjabi, poetry on eyes, shayari hindi, eyes shayari in hindi, urdu shayari, shayari urdu, shayari on eyes in urdu, romantic shayari, urdu poetry on eyes, 2 line shayari on eyes in hindi, funny shayari on eyes in hindi, attitude status on eyes in hindi, zehra nigah, zehra nigah shayari, nigah e faqar mein, famous shayari, rekhta shayari, best shayari, romantic shayari,  हिंदी शायरी, नज़र शायरी, नजर आएंगे, निगाहें शायरी
सौ सौ उम्मीदें बंधती है,
इक-इक निगाह पर,
मुझको न ऐसे प्यार से देखा करे कोई..


Sau Sau Umeedein Badhti Hai,
Ik Ik Nigah Par,
Mujhko Na Aise Pyar Se Dekha Kare Koyi.


ये आईने नही दे सकते तुम्हे तुम्हारी खूबसूरती की सच्ची ख़बर,
कभी मेरी इन आँखों में झांक कर देखो की कितनी हसीन हो…


Ye Aaene Nahi De Sakte Tumhe Tumhari Khubsurti Ki Sacchi Khabar,
Kabhi Meri In Aankhon Me Jhank Kar Dekho Ki Kitni Haseen Ho..


तुम्हारी आँखों की ‘तौहीन’ है ज़रा सोचो
तुम्हारा चाहने वाला शराब पीता है

मुनव्वर राना
Tumhari Ankhon Ki Tauheen Hai Jara Socho,
Tumhara Chahne Wala Sharab Pita Hai..

Munawwar Rana


तेरी आँखों की तौहीन है ये,
जरा सोचो?
तुम्हारा चाहने वाला शराब पीता है.


Teri Aankhon Ki Tauheen Hai Ye,
Jara Socho?
Tumhara Chahne Wala Sharab Peeta Hai.


जब भी हाथ उठे हैं दुआ के लिए,
मेरे लबों पे तेरा ही नाम आया,


कब से आँख में छुपा के रखा था,
तेरे दुःख में आज वही आंसू काम आया..


Jab Bhi Hath Uthe Hai Dua Ke Liye,
Mere Labon Pe Tera Hi Naam Aaya,

Kab Se Aankh Mein Chhupa Ke Rakha Tha,
Tere Dukh Mein Aaj Wahi Aansoo Kaam Aaya..


यूँ ही गुजर जाती है शाम अंजुमन में,
कुछ तेरी आँखों के बहाने कुछ तेरी बातो के बहाने.


Yun Hi Guzar Jati Hai Sham Anjuman Me,
Kuch Teri Ankhon Ke Bhane Kuch Teri Baton Ke Bhane.


नशीली आँखों से वो जब हमें देखते हैं
हम घबराकर ऑंखें झुका लेते हैं 


कौन मिलाए उनकी आँखों से ऑंखें
सुना है वो आँखों से अपना बना लेते है.


Nasheeli Aankhon Se Wo Jab Hamein Dekhte Hain
Hum Ghabra Kar Ankhen Jhuka Lete Hain

Kaun Milae Unki Aankhon Se Aankhen
Suna Hai Vo Aankhon Se Apna Bana Lete Hai.


चख के देख ली दुनिया भर की शराब की बोतलें,
जो नशा तेरी आँखों में था वो किसी में नहीं..

Chak Ke Dekh Le Duniya Bhar Ki Sharab Ki Botale,
Jo Nasha Teri Ankho Me Tha Wo Kisi Me Nahi..


जो उनकी आँखों से बयां होते हैं,
वो लफ्ज़ शायरी में कहाँ होते हैं..


Jo Unki Aankho Se Bayaan Hote Hain,
Woh Lafz Shayari Mein Kahan Hote Hain.


मैं उम्र भर जिनका न कोई दे सका जवाब,
वह इक नजर में,
इतने सवालात कर गये.

Main Umra Bhar Jinka Na De Saka Jawab,
Woh Ek Nazar Mein Itne Sawalat Kar Gaye.


TAG:
shayari on eyes, shayari on eyes in hindi, beautiful shayari on eyes, 2 line shayari on eyes, tareef shayari on eyes, english shayari on eyes, 2 line shayari on eyes in hindi, hindi romantic shayari on eyes, punjabi shayari on eyes, gulzar shayari on eyes, shayari on eyes, tareef shayari on eyes, shayari, sad shayari, love shayari, shayari on eyes in punjabi, poetry on eyes, shayari hindi, eyes shayari in hindi,  shayari on eyes in urdu, romantic shayari, urdu poetry on eyes, funny shayari on eyes in hindi, attitude status on eyes in hindi, zehra nigah,  नज़र शायरी, नजर आएंगे, निगाहें शायरी

Read More

2 Line Shayari on Eyes in Hindi - निगाह शायरी - Aankhein Shayari | अध्याय 2

नवंबर 30, 2019


shayari on eyes, hindi shayari, 2 line shayari on eyes, tareef shayari on eyes, shayari, sad shayari, love shayari, shayari on eyes in punjabi, poetry on eyes, shayari hindi, eyes shayari in hindi, urdu shayari, shayari urdu, shayari on eyes in urdu, romantic shayari, urdu poetry on eyes, 2 line shayari on eyes in hindi, funny shayari on eyes in hindi, attitude status on eyes in hindi, zehra nigah, zehra nigah shayari, nigah e faqar mein, famous shayari, rekhta shayari, best shayari, romantic shayari,  हिंदी शायरी, नज़र शायरी, नजर आएंगे, निगाहें शायरी

सुकून की तलाश में तुम्हारी आँखों में झाँका था,
किसे पता था कम्बखत दिल का दर्द और मिल जाएगा..

Sukun Ki Talash Me Tumhari Ankhon Me Jhanka Tha,
Kise Pata Tha Kambakht Dil Ka Dard Aur Mil jayega..


जो सुरूर है तेरी आँखों में वो बात कहां मैखाने में,
बस तू मिल जाए तो फिर क्या रखा है ज़माने में..

Jo Surur Hai Teri Ankho Me Vo Bat Khan Maikhane Me,
Bas Tu Mil Jaye To Fir Kya Rakha Hai Zamane ME..


वो कहने लगी,
नकाब में भी पहचान लेते हो हजारों के बीच ?
मैंने मुस्करा के कहा,
तेरी आँखों से ही शुरू हुआ था इश्क हज़ारों के बीच..

Wo Khane Lagi ,
Nakab Me Bhi Pahchan Lete Ho Hajaron Ke Bich?
Mene Muskura Ke Kha,
Teri Ankho Se Hi Suru Huwa Tha Ishk Hazaron Ke Bich..


ज़ीना मुहाल कर रखा है मेरी इन आँखों ने,
खुली हो तो तलाश तेरी बंद हो तो ख्वाब तेरे..


Jeena Muhal Kar Rakha Hai Meri Inn Aankho Ne,
Khuli Ho To Talaash Teri Band Ho To Khwab Tere.


सामने ना हो तो तरसती हैं आँखें,
याद में तेरी बरसती हैं आँखें,
मेरे लिए ना सही,


इनके लिए ही आ जाया करो,
तुमसे बेपनाह मोहब्बत करती हैं ये आँखें..


Samne Na Ho to Tarasti Hain Aankhen,
Yaad Mein Teri Baraste Hain Aankhen,
Mere Liye Na Sahi,

Inke Lie Hee Aa Jaaya Karo,
Tumse Bepanah Mohabbat Karte Hain Ye Aankhen..


कोई आँखों से बातें करता हैं
कोई आँखों से मुलाकाते करता हैं 


बड़ा मुश्किल होता हैं जवाब देना
जब कोई चुप रह के सवाल करता हैं.


Koi Aankhon Se Baaten Karta Hai
Koi Aankhon Se Mulakate Karta Hain

Bada Mushkil Hota Hai Jawab Dena
Jab Koi Chup Rah Ke Savaal Karata Hain .


क़ैद ख़ानें हैं,
बिन सलाख़ों के,
कुछ यूँ चर्चें हैं ,
तुम्हारी आँखों के.


Qaid Khane Hai,
Bin Salakhon Ke,
Kuch Yun Charche Hai 

Tumhari Ankho Ke..


मुझे मालूम है तुमने बहुत बरसातें देखी है,
मगर मेरी इन्हीं आँखों से सावन हार जाता है


Mujhe Maaloom Hai Tumane Bahut Barasaaten Dekhee Hai,
Magar Meri Inheen Aankhon Se Saavn Haar Jata Hai


जब बिखरेगा तेरी गालों पे तेरी आँखों का पानी,
तब तुझे एहसास होगा की मोहब्बत किसे कहते है..

Jab Bikhrega Teri Galon Pe Teri Ankho Ka Pani,
Tab Tujhe Aehsas Hoga Ki Mohbbat Kise Kahte Hai..


पानी में तैरना सीख ले मेरे दोस्त,
आँखों में डूबने वालों का अंजाम बुरा होता है


Pani Me Tairna Seekh Le Mere Dost,
Ankhon Me Dubne Walo Ka Anjam Bura Hota Hai.


TAG:
shayari on eyes, hindi shayari, 2 line shayari on eyes, tareef shayari on eyes, shayari, sad shayari, love shayari, shayari on eyes in punjabi, poetry on eyes, shayari hindi, eyes shayari in hindi, urdu shayari, shayari urdu, shayari on eyes in urdu, romantic shayari, urdu poetry on eyes, 2 line shayari on eyes in hindi, funny shayari on eyes in hindi, attitude status on eyes in hindi, zehra nigah, zehra nigah shayari, nigah e faqar mein, famous shayari, rekhta shayari, best shayari, romantic shayari,  हिंदी शायरी, नज़र शायरी, नजर आएंगे, निगाहें शायरी

Read More

Aankhein Shayari In Hindi - नजर शायरी - Shayari On Eyes | अध्याय 1

नवंबर 29, 2019


shayari on eyes, hindi shayari, 2 line shayari on eyes, tareef shayari on eyes, shayari, sad shayari, love shayari, shayari on eyes in punjabi, poetry on eyes, shayari hindi, eyes shayari in hindi, urdu shayari, shayari urdu, shayari on eyes in urdu, romantic shayari, urdu poetry on eyes, 2 line shayari on eyes in hindi, funny shayari on eyes in hindi, attitude status on eyes in hindi, zehra nigah, zehra nigah shayari, nigah e faqar mein, famous shayari, rekhta shayari, best shayari, romantic shayari,  हिंदी शायरी, नज़र शायरी, नजर आएंगे, निगाहें शायरी

तेरी आँखों की कशिश भी खींचती है इस कदर,
ये दिल सिर्फ बहलता नहीं बहक जाने की जिद करता है।


Teri Aankhon Ki Kashish Bhi Khichti Hai is Kadar,
Ye Dil Sirf Behlata Nahin Bahak Jaane Ki Zid Karta Hai.


वो शख्स जिसकी आँखों में इंकार के सिवा कुछ भी नही,
ना जाने क्यों उसकी आँखों पे जिंदगी लुटाने को जी चाहता है


Vo Shakhs Jisakee Aankhon Mein Inkaar Ke Siva Kuchh Bhi Nahi,
Na Jaane Kyon Usaki Aankhon Pe Jindagee Lutaane Ko Jee Chahta Hai


तुम्हारी निगाहें बहुत बोलती हैं,
जरा अपनी आँखों पे पलके गिरा दो..

Tumhari Nigahen Bahut Bolti Hain,
Jara Apni Ankhon Pe Palke Gira Do..


अबकी बार तुम मिले तो पलके बंद ही रखेंगे ,
ये बातूनी आंखें मुंह को कुछ बोलने नहीं देती


Abki Baar Tum Mile To Palke Band Hi Rakhenge,
Ye Batuni Ankhen Munh Ko Kuchh Bolane Nahi Deti..


मैं जिसे ओढ़ता-बिछाता हूँ वो ग़ज़ल आपको सुनाता हूँ.
एक जंगल है तेरी आँखों में मैं जहाँ राह भूल जाता हूँ..

Me Jise Odhta Bichata Hoon,Wo Ghazal Aapko Sunata Hun,
Ek Jangal Hai Teri Ankho Me Jhan Rah Bhul Jata Hun..



रात गुजारी फिर महकती सुबह आई,
दिल धड़का फिर तुम्हारी याद आई,

आँखों ने महसूस किया उस हवा को,
जो तुम्हे छु कर हमारे पास आयी..

Raat Gujari Fir Mehakti Subha Aayi,
Dil Dhadka Fir Tumhari Yaad Aayi,


Ankhon Ne Mahsus Kiya Us Hwa ko,
Jo Tumhe Chu kar Hmare Pas Aayi..


पाने से खोने का मज़ा और है,
बंद आँखों से देखने का मज़ा और है,


आंसू बने लफ्ज़ और लफ्ज़ बने गजल,
यादों के साथ जीने का मज़ा कुछ और है.


Paane Se Khone Ka Maza Aur Hai,
Band Aankhon Se Dekhane Ka Maza Aur Hai,

Aasoo Bane Lafz Aur Lafz Bane Gajal,
Yaadon Ke Saath Jeene Ka Maza Kuchh Aur Hai.


नींद को आज भी शिकवा है मेरी आँखों से ,
मैंने आने न दिया उसको कभी तेरी याद से पहले..

Nind Ko Aaj Bhi Shikwa Hai Meri Ankho Se ,
Mene Aane Na Diya Usko Kabhi Teri Yad Se Pahle.


Tumne Kaha Tha,
Ankh Bhar Ke Dekh Liya Karo Mujhe,
Ab Aankh Bhar Aati Hain,
Par Tum Nazar Nahi Aate.

तुमने कहा था,
आँख भर के देख लिया करो मुझे
अब आँख भर आती है पर तुम नज़र नहीं आते​.


मुझसे जब भी मिलो नजरें उठाकर मिलो,
मुझे पसंद है अपनेआप को तुम्हारी आँखों में देखना.

Mujhse Jab Bhi Milo Nazre Uthakar Milo.,
Mujhe Pasand Hai Apne Aap ko Tumhari Ankho Me Dekhna..


TAG:
shayari on eyes, hindi shayari, 2 line shayari on eyes, tareef shayari on eyes, shayari, sad shayari, love shayari, shayari on eyes in punjabi, poetry on eyes, shayari hindi, eyes shayari in hindi, urdu shayari, shayari urdu, shayari on eyes in urdu, romantic shayari, urdu poetry on eyes, 2 line shayari on eyes in hindi, funny shayari on eyes in hindi, attitude status on eyes in hindi, zehra nigah, zehra nigah shayari, nigah e faqar mein, famous shayari, rekhta shayari, best shayari, romantic shayari,  हिंदी शायरी, नज़र शायरी, नजर आएंगे, निगाहें शायरी

Read More