Maut Shayari अध्याय लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

Best Maut Shayari, Quotes, Status, Poetry, SMS | अध्याय 4

नवंबर 14, 2019


चैन तो छिन चुका है अब बस जान बाकी है,
अभी मोहब्बत में मेरा इम्तेहान बाकी है,


मिल जाना वक़्त पर पर ऐ मौत के फ़रिश्ते,
किसी को गिला है किसी का फरमान बाकी है।

Chain To Chhin Chuka Hai Ab Bas Jaan Baakee Hai,
Abhee Mohabbat Mein Mera Imtehaan Baakee Hai,


Mil Jaana Vaqt Par Par Ai Maut Ke Farishte,
Kisee Ko Gila Hai Kisee Ka Pharamaan Baakee Hai.,


कफ़न की गिरह खोल कर
मेरा दीदार तो कर लो,

बंद हो गई हैं वो आँखे
जिन से तुम शरमाया करती थी।

Kafan Kee Girah Khol Kar
Mera Deedaar To Kar Lo,


Band Ho Gaee Hain Vo Aankhe

Jin Se Tum Sharamaaya Karate Thee.


अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले,
वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा थे​।


Ab Maut Se Kah Do Ki Naaraazagee Khatm Kar Le,
Vo Badal Gaya Hai Jisake Lie Ham Zinda The​.


मौत को तो यूँ ही बदनाम करते हैं लोग,
तकलीफ तो साली ज़िन्दगी देती है!

उनसे बिछड़े तो मालूम हुआ मौत क्या चीज है
ज़िन्दगी वो थी जो हम उनकी महफ़िल में गुजार आए


Maut Ko To Yoon Hee Badanaam Karate Hain Log,
Takaleeph To Saalee Zindagee Detee Hai!

Unase Bichhade To Maaloom Hua Maut Kya Cheej Hai
Zindagee Vo Thee Jo Ham Unakee Mahafil Mein Gujaar Aae,


एक दिन निकला सैर को मेरे दिल में कुछ अरमान थे,
एक तरफ थी झाड़ियाँ..
. एक तरफ श्मशान थे,


पैर तले इक हड्डी आई उसके भी यही बयान थे,
चलने वाले संभल कर चलना हम भी कभी इंसान थे।


Ek Din Nikala Sair Ko Mere Dil Mein Kuchh Aramaan The,
Ek Taraph Thee Jhaadiyaan..
. Ek Taraph Shmashaan The,


Pair Tale Ik Haddee Aaee Usake Bhee Yahee Bayaan The,
Chalane Vaale Sambhal Kar Chalana Ham Bhee Kabhee Insaan The.,


ढूंढोगे कहाँ मुझको,
मेरा पता लेते जाओ,
एक कब्र नई होगी एक जलता दिया होगा।


Dhoondhoge Kahaan Mujhako,
Mera Pata Lete Jao,
Ek Kabr Naee Hogee Ek Jalata Diya Hoga.


मेरी ज़िंदगी तो गुजरी तेरे हिज्र के सहारे,
मेरी मौत को भी कोई बहाना चाहिए।

Meree Zindagee To Gujaree Tere Hijr Ke Sahaare,
Meree Maut Ko Bhee Koee Bahaana Chaahie.


मोहब्बत और मौत दोनों बिन बुलाए मेहमान होते है
कब आजाए कोई नहीं जानता लेकिन दोनों का


एक ही काम है एक को दिल चाहिए दुसरी को धड़कन !



Mohabbat Aur Maut Donon Bin Bulae Mehamaan Hote Hai
Kab Aajae Koee Nahin Jaanata Lekin Donon Ka


Ek Hee Kaam Hai Ek Ko Dil Chaahie Dusaree Ko Dhadakan !


कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे,
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे,


यूं घुट घुट के जीने से तो मौत बेहतर है,
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे।


Kitana Aur Dard Dega Bas Itana Bata De,
Aisa Kar Ai Khuda Meree Hastee Mita De,


Yoon Ghut Ghut Ke Jeene Se To Maut Behatar Hai,
Main Kabhee Na Jaagoon Mujhe Aisee Neend Sula De.


सुलगती जिंदगी से मौत आ जाये तो बेहतर है,
हमसे दिल के अरमानों का अब मातम नहीं होता।


Sulagatee Jindagee Se Maut Aa Jaaye To Behatar Hai,
Hamase Dil Ke Aramaanon Ka Ab Maatam Nahin Hota.


TAG:
maut shayari, maut shayari 2 lines urdu, maut shayari images, maut shayari in english, maut shayari in hindi 140 character, maut shayari in hindi for love, maut shayari in love, maut shayari in punjabi, maut shayari two line, maut shayari wallpaper, meri maut shayari in hindi, mohabbat aur maut shayari, zindagi aur maut shayari in urdu

Read More

Maut Shayari in Hindi मौत शायरी, कफ़न शायरी, जनाज़ा शायरी | अध्याय 3

नवंबर 11, 2019


यहाँ गरीब को मरने की इसलिए भी जल्दी है साहब,
कहीं जिन्दगी की कशमकश में कफ़न महँगा ना हो जाए।


Yahaan Gareeb Ko Marane Kee Isalie Bhee Jaldee Hai Saahab,
Kaheen Jindagee Kee Kashamakash Mein Kafan Mahanga Na Ho Jae.


मौत-ओ-हस्ती की कशमकश में कटी उम्र तमाम,
गम ने जीने न दिया शौक ने मरने न दिया।


Maut-O-Hastee Kee Kashmakash Mein Katee Umr Tamaam,
Gam Ne Jeene Na Diya Shauk Ne Marane Na Diya.


इंतज़ार है हमें तो बस अपनी मौत का,
उनका वादा है कि उस दिन मुलाकात होगी।


Intazaar Hai Hamen To Bas Apanee Maut Ka,
Unaka Vaada Hai Ki Us Din Mulaakaat Hogee.


आसमान के परे मुकाम मिल जाए,
खुदा को मेरा ये पैगाम मिल जाए,


थक गयी है धड़कनें अब तो चलते चलते,
ठहरे सांसे तो शायद आराम मिल जाए।


Aasamaan Ke Pare Mukaam Mil Jae,
Khuda Ko Mera Ye Paigaam Mil Jae,


Thak Gayee Hai Dhadakanen Ab To Chalate Chalate,
Thahare Saanse To Shaayad Aaraam Mil Jae.


आशिक़ मरते नहीं सिर्फ दफनाए जाते हैं,
कब्र खोद कर देखो इंतज़ार में पाए जाते हैं।


Aashiq Marate Nahin Sirph Daphanae Jaate Hain,
Kabr Khod Kar Dekho Intazaar Mein Pae Jaate Hain.


कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे,
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे,


यूं घुट घुट के जीने से तो मौत बेहतर है,
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे।


Kitana Aur Dard Dega Bas Itana Bata De,
Aisa Kar Ai Khuda Meree Hastee Mita De,


Yoon Ghut Ghut Ke Jeene Se To Maut Behatar Hai,
Main Kabhee Na Jaagoon Mujhe Aisee Neend Sula De.


तेरी ही जुस्तजू में जी लिया इक ज़िंदगी मैंने,
गले मुझको लगाकर खत्म साँसों का सफ़र कर दे।


Teree Hee Justajoo Mein Jee Liya Ik Zindagee Mainne,
Gale Mujhako Lagaakar Khatm Saanson Ka Safar Kar De.


सुलगती जिंदगी से मौत आ जाये तो बेहतर है,
हमसे दिल के अरमानों का अब मातम नहीं होता।


Sulagatee Jindagee Se Maut Aa Jaaye To Behatar Hai,
Hamase Dil Ke Aramaanon Ka Ab Maatam Nahin Hota.


अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले,
वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा थे​।

Ab Maut Se Kah Do Ki Naaraazagee Khatm Kar Le,
Vo Badal Gaya Hai Jisake Lie Ham Zinda The​.


उसकी यादों ने मुझे पागल बना रखा है,
कहीं मर ना जाऊं कफ़न सिला रखा है,


मेरा दिल निकाल लेना दफ़नाने से पहले,
वो ना दब जाए जिसे दिल मे बसा रखा है।


Usakee Yaadon Ne Mujhe Paagal Bana Rakha Hai,
Kaheen Mar Na Jaoon Kafan Sila Rakha Hai,


Mera Dil Nikaal Lena Dafanaane Se Pahale,
Vo Na Dab Jae Jise Dil Me Basa Rakha Hai.


जरा चुपचाप तो बैठो कि दम आराम से निकले,
इधर हम हिचकी लेते हैं उधर तुम रोने लगते हो।


Jara Chup Chaap To Baitho Ki Dam Aaraam Se Nikale,
Idhar Ham Hichakee Lete Hain Udhar Tum Rone Lagate Ho.


लिया हो जो न आपने ऐसा कोई इम्तिहान न रहा,
इंसान आखिर मोहब्बत में इंसान न रहा,

है कोई बस्ती जहाँ से न उठा हो जनाज़ा दीवाने का,
आशिक की कुर्बत से महरूम कोई कब्रिस्तान न रहा।


Liya Ho Jo Na Aapne Aisa Koi Imtihaan Na Raha,
Insaan Aakhir Mohabbat Mein Insaan Na Raha,


Hai Koee Bastee Jahaan Se Na Utha Ho Janaza Deewane Ka,
Aashiq Kee Qurbat Se Mehroom Koee Kabristan Na Raha.,


TAG:
maut shayari, maut shayari 2 lines urdu, maut shayari images, maut shayari in english, maut shayari in hindi 140 character, maut shayari in hindi for love, maut shayari in love, maut shayari in punjabi, maut shayari two line, maut shayari wallpaper, meri maut shayari in hindi, mohabbat aur maut shayari, zindagi aur maut shayari in urdu

Read More

Maut Shayari, Kafan Shayari, Janaza Shayari, मौत शायरी | अध्याय 2

नवंबर 09, 2019


चले आओ सनम बस आखिरी साँसें बची हैं कुछ,
तुम्हारी दीद हो जाती तो खुल जातीं मेरे आँखें।


Chale Aao Sanam Bas Aakhiree Saansen Bachee Hain Kuchh,
Tumhaaree Deed Ho Jaatee To Khul Jaateen Mere Aankhen.


ज़िन्दगी ज़ख्मो से भरी है 
वक्त को मरहम बनाना सीख लो

हारना तो मौत के सामने है 

फ़िलहाल ज़िन्दगी से जीना सीख लो

Zindagi Zakhmo Se Bhari Hai 

Waqt Ko Marham Banana Seekh Lo

Haarana To Maut Ke Saamne Hai 

Filhaal Zindagi Se Jeena Seekh Lo


मौत को तो मैंने कभी देखा नहीं
पर यकीनन बहुत खुबसूरत होगी
जो भी मिलता है उससे जीना छोड़ देता है


Maut Ko To Mainne Kabhee Dekha Nahin
Par Yakeenan Bahut Khubasoorat Hogee
Jo Bhee Milata Hai Usase Jeena Chhod Deta Hai


मौत को तो यूँ ही बदनाम करते हैं लोग,
तकलीफ तो साली ज़िन्दगी देती है!


Maut Ko To Yoon Hee Badanaam Karate Hain Log,
Takaleeph To Saalee Zindagee Detee Hai!


मौत मांगते है तो ज़िन्दगी खफा हो जाती है
जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है


तु बता ऐ ज़िन्दगी तेरा क्या करू
जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है


Maut Maangate Hai To Zindagee Khapha Ho Jaatee Hai
Jahar Lete Hai To Vo Bhee Dava Ho Jaatee Hai


Tu Bata Ai Zindagee Tera Kya Karoo
Jisako Bhee Chaaha Vo Bevapha Ho Jaatee Hai


ढूंढोगे कहाँ मुझको,
मेरा पता लेते जाओ,
एक कब्र नई होगी एक जलता दिया होगा।


Dhoondhoge Kahaan Mujhako,
Mera Pata Lete Jao,
Ek Kabr Naee Hogee Ek Jalata Diya Hoga.


मिट्टी मेरी कब्र से उठा रहा है कोई,
मरने के बाद भी याद आ रहा है कोई,


ऐ खुदा कुछ पल की मोहलत और दे दे,
उदास मेरी कब्र से जा रहा है कोई।


Mittee Meree Kabr Se Utha Raha Hai Koee,
Marane Ke Baad Bhee Yaad Aa Raha Hai Koee,


Ai Khuda Kuchh Pal Kee Mohalat Aur De De,
Udaas Meree Kabr Se Ja Raha Hai Koee.


यूँ तो हादसों में गुजरी है हमारी ज़िंदगी,
हादसा ये भी कम नहीं कि हमें मौत ना मिली।


Yoon To Haadason Mein Gujaree Hai Hamaaree Zindagee,
Haadasa Ye Bhee Kam Nahin Ki Hamen Maut Na Milee.


आसमान के परे मुकाम मिल जाए,
खुदा को मेरा ये पैगाम मिल जाए,


थक गयी है धड़कनें अब तो चलते चलते,
ठहरे सांसे तो शायद आराम मिल जाए।


Aasamaan Ke Pare Mukaam Mil Jae,
Khuda Ko Mera Ye Paigaam Mil Jae,


Thak Gayee Hai Dhadakanen Ab To Chalate Chalate,
Thahare Saanse To Shaayad Aaraam Mil Jae.


मैं अब सुपुर्दे ख़ाक हूँ मुझको जलाना छोड़ दे,
कब्र पर मेरी तू उसके साथ आना छोड़ दे,


हो सके गर तू खुशी से अश्क पीना सीख ले,
या तू आँखों में अपनी काजल लगाना छोड़ दे।


Main Ab Supurde Khaak Hoon Mujhako Jalaana Chhod De,
Kabr Par Meree Too Usake Saath Aana Chhod De,


Ho Sake Gar Too Khushee Se Ashk Peena Seekh Le,
Ya Too Aankhon Mein Apanee Kaajal Lagaana Chhod De.,


इंतज़ार है हमें तो बस अपनी मौत का,
उनका वादा है कि उस दिन मुलाकात होगी।


Intazaar Hai Hamen To Bas Apanee Maut Ka,
Unaka Vaada Hai Ki Us Din Mulaakaat Hogee.


वादे भी उसने क्या खूब निभाए हैं,
ज़ख्म और दर्द तोहफे में भिजवाए हैं,


इस से बढ़कर वफ़ा कि मिसाल क्या होगी,
मौत से पहले कफ़न का सामान ले आये हैं।

Vaade Bhee Usane Kya Khoob Nibhae Hain,
Zakhm Aur Dard Tohaphe Mein Bhijavae Hain,


Is Se Badhakar Vafa Ki Misaal Kya Hogee,
Maut Se Pahale Kafan Ka Saamaan Le Aaye Hain
.



TAG:
maut shayari, maut shayari 2 lines urdu, maut shayari images, maut shayari in english, maut shayari in hindi 140 character, maut shayari in hindi for love, maut shayari in love, maut shayari in punjabi, maut shayari two line, maut shayari wallpaper, meri maut shayari in hindi, mohabbat aur maut shayari, zindagi aur maut shayari in urdu

Read More

मौत शायरी - Maut Shayari in Hindi - हिंदी शायरी | मौत शायरी इन हिंदी फॉन्ट | अध्याय 1

नवंबर 06, 2019


तुम समझते हो कि जीने की तलब है मुझको,
मैं तो इस आस में ज़िंदा हूँ कि मरना कब है।

Tum Samajhate Ho Ki Jeene Kee Talab Hai Mujhako,
Main To Is Aas Mein Zinda Hoon Ki Marana Kab Hai.


एक दिन निकला सैर को 
मेरे दिल में कुछ अरमान थे,
एक तरफ थी झाड़ियाँ, 

एक तरफ श्मशान थे,

पैर तले इक हड्डी आई 

उसके भी यही बयान थे,
चलने वाले संभल कर चलना 

हम भी कभी इंसान थे।
Ek Din Nikala Sair Ko 

Mere Dil Mein Kuchh Aramaan The,
Ek Taraph Thee Jhaadiyaan. 

Ek Taraph Shmashaan The,

Pair Tale Ik Haddee Aaee 

Usake Bhee Yahee Bayaan The,
Chalane Vaale Sambhal Kar Chalana 

Ham Bhee Kabhee Insaan The.,


उसकी यादों ने मुझे पागल बना रखा है,
कहीं मर ना जाऊं कफ़न सिला रखा है,

मेरा दिल निकाल लेना दफ़नाने से पहले,
वो ना दब जाए जिसे दिल मे बसा रखा है।


Usakee Yaadon Ne Mujhe Pagal Bana Rakha Hai,
Kaheen Mar Na Jaoon Kafan Sila Rakha Hai,

Mera Dil Nikaal Lena Dafanaane Se Pahale,
Vo Na Dab Jae Jise Dil Me Basa Rakha Hai.


एक दिन जब हुआ इश्क का एहसास उन्हें
वो हमारे पास आके सारा दिन रोते रहे


और हम भी इतना खुदगर्ज निकले यारो
आँखे बंद करके कफन में सोते रहे


Ek Din Jab Hua Ishk Ka Ehasaas Unhen
Vo Hamaare Paas Aake Saara Din Rote Rahe


Aur Ham Bhee Itana Khudagarj Nikale Yaaro
Aankhe Band Karake Kaphan Mein Sote Rahe


न उड़ाओ यूं ठोकरों से मेरी खाके कब्र ज़ालिम,
यही एक रह गई है मेरे प्यार की निशानी।


Na Udao Yoon Thokaron Se Meree Khaake Kabr Zaalim,
Yahee Ek Rah Gaee Hai Mere Pyaar Kee Nishaanee.


मिट्टी मेरी कब्र से उठा रहा है कोई,
मरने के बाद भी याद आ रहा है कोई,


कुछ पल की मोहलत और दे दे ऐ खुदा,
उदास मेरी कब्र से जा रहा है कोई।

Mittee Meree Kabr Se Utha Raha Hai Koee,
Marane Ke Baad Bhee Yaad Aa Raha Hai Koee,


Kuchh Pal Kee Mohalat Aur De De Ai Khuda,
Udaas Meree Kabr Se Ja Raha Hai Koee.


आशिक़ मरते नहीं सिर्फ दफनाए जाते हैं,
कब्र खोद कर देखो इंतज़ार में पाए जाते हैं।

Aashiq Marate Nahin Sirph Daphanae Jaate Hain,
Kabr Khod Kar Dekho Intazaar Mein Pae Jaate Hain.


तसव्वर में न जाने कातिबे-तकदीर क्या था,
मेरा अंजाम लिखा है मेरे आगाज से पहले।


Tasavvar Mein Na Jaane Kaatibe-Takadeer Kya Tha,
Mera Anjaam Likha Hai Mere Aagaaj Se Pahale.


अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले,
वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा थे ।


Ab Maut Se Kah Do Ki Naaraazagee Khatm Kar Le,
Vo Badal Gaya Hai Jisake Lie Ham Zinda The .


उम्र तमाम बहार की उम्मीद में गुजर गयी,
बहार आई है तो पैगाम मौत का लाई है।


Umr Tamaam Bahaar Kee Ummeed Mein Gujar Gayee,
Bahaar Aaee Hai To Paigaam Maut Ka Laee Hai.


मोहब्बत और मौत की पसन्द तो देखो यारो
एक को दिल चाहिए और दुसरे को धड़कन


Mohabbat Aur Maut Kee Pasand To Dekho Yaaro
Ek Ko Dil Chaahie Aur Dusare Ko Dhadakan


खुशी आपके लिए गम हमारे लिए,
जिंदगी आपके लिए मौत हमारे लिए,


हँसी आपके लिए रोना हमारे लिए,
सबकुछ आपके लिए आप हमारे लिए।


Khushee Aapake Lie Gam Hamaare Lie,
Jindagee Aapake Lie Maut Hamaare Lie,


Hansee Aapake Lie Rona Hamaare Lie,

Sabakuchh Aapake Lie Aap Hamaare Lie.



TAG:
maut shayari, maut shayari 2 lines urdu, maut shayari images, maut shayari in english, maut shayari in hindi 140 character, maut shayari in hindi for love, maut shayari in love, maut shayari in punjabi, maut shayari two line, maut shayari wallpaper, meri maut shayari in hindi, mohabbat aur maut shayari, zindagi aur maut shayari in urdu

Read More