Rose Day Status for Friends | Rose Day Status Shayari for Friends | Rose Day Shayari for Friends



दोस्ती का रिश्ता अनोखा है
न गुलाब सा है न काँटों सा,
दोस्ती का रिश्ता तो उस दाली की तरह है
जो गुलाब और कंटे दोनों को एक साथ
जोड़े रखता है आखरी दम तक
Happy Rose Day Bhai

Dosti Ka Rishta Anokha Hai
Na Gulaab Sa Hai Na Kanto Sa,
Dosti Ka Rishta to Us Daali Ki Tarah Hai
Jo Gulab Aur Kaante Dono Ko Ek Sath
Jode Rakhta Hai Aakhri Dum Tak
Happy Rose Day Bhai


चेहरा आपका खिला रहे गुलाब की तरह
नाम आपका रोशन रहे आफताब की तरह
ग़म में भी आप हँसते रहे फूलों की तरह
अगर हम इस दुनिया में न रहें आज की तरह
Happy Rose Day

Chehara Aapaka Khila Rahe Gulab Kee Tarah
Naam Aap Ka Roshan Rahe Aftab Kee Tarah
Gam Mein Bhee Aap Hansate Rahe Phoolon Kee Tarah
Agar Ham is Duniya Mein Na Rahen Aaj Kee Tarah
Happy Rose Day


चमन से बिछड़ा हुआ एक गुलाब हूँ,
मैं खुद अपनी तबाही का जवाब हूँ,
यूं निगाहें न फेरो मुझसे मेरे सनम,
मैं तेरी चाहतों में ही हुआ बर्बाद हो.
Happy Rose Day

Chaman Se Bichhda Hua Ek Gulab Hoon,
Main Khud Apni Tabahi Ka Jawaab Hoon,
Yoon Nigahen Na Phero Mujse Mere Sanam,
Main Teri Chahaton Me Hi Hua Barbaad Hu.
Happy Rose Day


फूल बनकर मुस्कुराना ज़िंदगी,
मुस्करा के गम भुलाना जिंदगी,
जीत कर कोई खुश हो तो क्या हुआ,
हार कर खुशियाँ मनाना भी ज़िन्दगी.
Happy Rose Day

Phool Bankar Muskurana Zindagi,
Muskara Ke Gum Bhulana Zindagi,
Jeet Kar Koi Khush Ho to Kya Hua,
Haar Kar Khushiya Manana Bhi Zindagi.
Happy Rose Day


दोस्ती ग़ज़ल है गुनगुनाने के लिए
नगमा है सुनाने के लिए
ये तो वो रिश्ता है जो टूट कर भी टूटता नहीं
जैसे आँखों के पलक
दूर रह नहीं सकता बिना झपकाए बिना
Happy Rose Day My Friend

Dosti Gazal Hai Gungunane Ke Liye
Nagma Hai Sunane Ke Liye
Ye to Wo Rishta Hai Jo Tut Kr Bhi Tutataa Nhi
Jaise Aankho Ka Plak
Door Reh Nahi Sakta Bina Jhapkaye Bina
Happy Rose Day My Friend