Toota Dil Shayari in Hindi - दिल शायरी | अध्याय 6


dil shayari, shayari for dil, shayari on dil, shayari dil se, dil ki shayari, zakhmi dil shayari, dil jale shayari, dil lagi shayari, ae dil hai mushkil shayari, dil bhari shayari, dil shayari hindi, dil shayari in hindi, dil tod shayari, dil wali shayari, shayari on dil ki baat, dil se shayari in hindi, dil shayari image, shayari dil ko chune wali, dil khush shayari, dil tuti shayari, dil tuta shayari in hindi, dil shayari photo, dil dard shayari, alfaaz dil ki shayari, dil dukhana shayari, dil se shayari images
चल न उठके वहीं चुपके चुपके तू ऐ दिल,
अभी उसकी गली से पुकार के लाया हूँ।

Chal Na Uthake Vaheen Chupake Chupake Too Ai Dil,
Abhee Usakee Galee Se Pukaar Ke Laaya Hoon.



कल जहाँ से कि उठा लाए थे अहबाब मुझे,
ले चल आज वहीं फिर दिल-ए-बे-ताब मुझे।

Kal Jahaan Se Ki Utha Lae The Ahabaab Mujhe,
Le Chal Aaj Vaheen Phir Dil-E-Be-Taab Mujhe.



किसी के दिल में क्या छुपा है
ये बस खुदा ही जानता है,


दिल अगर बेनकाब होता
तो सोचो कितना फसाद होता।

Kisee Ke Dil Mein Kya Chhupa Hai
Ye Bas Khuda Hee Jaanata Hai,


Dil Agar Benakaab Hota
To Socho Kitana Phasaad Hota.



Kisi Ke Dil Mein Basna Kuchh Bura Toh Nahi,
Kisi Ko Dil Mein Basaana Koi Khata Toh Nahi,


Gunaah Ho Yeh Zamane Ki Najar Mein Toh Kya,
Zamane Wale Insaan Hain Koi Khuda Toh Nahi.


किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं,
किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नहीं,


गुनाह हो यह ज़माने की नज़र में तो क्या,
ज़माने वाले इंसान हैं कोई खुदा तो नहीं।



Samjha Na Koi Dil Ki Baat Ko,
Dard Duniya Ne Bina Soche Hi De Diya,


Jo Sah Gaye Har Dard Ko Hum Chupke Se,
Toh Humko Hi Patthar Dil Kah Diya.


समझा ना कोई दिल की बात को,
दर्द दुनिया ने बिना सोचे ही दे दिया,


जो सह गए हर दर्द को हम चुपके से,
तो हमको ही पत्थर दिल कह दिया।



टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी !
मेरी साँसों ने हर पर उसकी ख़ुशी मांगी !


न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से !
के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी !

Toote Hue Dil Ne Bhee Usake Lie Dua Maangee !
Meree Saanson Ne Har Par Usakee Khushee Maangee !


Na Jaane Kaisee Dillagee Thee Us Bevapha Se !
Ke Mainne Aakhiree Khvaahish Mein Bhee Usakee Vafa Maangee !



इस दिल ने अदा कर दिया हक होने का अपने,
नफ़रत भी बहुत की है मोहब्बत भी बहुत की।

Is Dil Ne Ada Kar Diya Hak Hone Ka Apane,
Nafarat Bhee Bahut Kee Hai Mohabbat Bhee Bahut Kee.



Sau Baar Kaha Dil Se
Chal Bhool Bhi Ja Usko,


Har Baar Kaha Dil Ne
Tum Dil Se Nahi Kahte.


सौ बार कहा दिल से
चल भुल भी जा उसको।


हर बार कहा दिल ने
तुम दिल से नही कहते।



Tera Khayal Teri Talab Aur Teri Aarzoo,
Ek Bheed Si Lagi Hai Mere Dil Ke Shahar Mein.


तेरा ख़याल तेरी तलब और तेरी आरज़ू,
इक भीड़ सी लगी है मेरे दिल के शहर में।



ना‬ जाने कब तुम आ कर हमारे ‪‎दिल‬ मे बसने लगे !
तुम ‪‎पहले‬ दोस्त थे फिर प्यार फिर ना ‪‎जाने‬ कब ज़िंदगी बन गये !

Na‬ Jaane Kab Tum Aa Kar Hamaare ‪‎Dil‬ Me Basane Lage !
Tum ‪‎Pahale‬ Dost The Phir Pyaar Phir Na ‪‎Jaane‬ Kab Zindagee Ban Gaye !



उन्हें मालूम है,
मैं दिल का मरीज़ हूँ,


फिर भी
वो मुझसे पूछते हैं,
आशिक़ मिजाज़ कैसा है।

Unhen Maaloom Hai,
Main Dil Ka Mareez Hoon,


Phir Bhee
Vo Mujhase Poochhate Hain,
Aashiq Mijaaz Kaisa Hai.



उदास हूँ पर तुझसे नाराज़ नहीं
तेरे दिल में हूँ पर तेरे पास नहीं


झूठ कहूँ तो सब कुछ है मेरे पास
और सच कहूँ तो तेरे सिवा कुछ नहीं


Udaas Hoon Par Tujhase Naaraaz Nahin
Tere Dil Mein Hoon Par Tere Paas Nahin


Jhooth Kahoon To Sab Kuchh Hai Mere Paas
Aur Sach Kahoon To Tere Siva Kuchh Nahin



उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,


दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है।

Ulphat Ka Aksar Yahee Dastoor Hota Hai,
Jise Chaaho Vahee Apane Se Door Hota Hai,


Dil Tootakar Bikharata Hai Is Kadar,
Jaise Koee Kaanch Ka Khilauna Choor-Choor Hota Hai.



Mumkin Agar Ho Sake To Wapas Kar Do,
Bina Dil Ke Ab Humara Dil Nahi Lagta.


मुमकिन अगर हो सके तो वापस कर दो,
बिना दिल के अब हमारा दिल नहीं लगता।



Jism Uska Bhi Mitti Ka Hai Meri Tarah Aye Khuda,
Phir Bhi Mera Dil Hi Kyun Tadapta Hai Uske Liye.


जिस्म उसका भी मिटटी का है मेरी तरह ऐ खुदा,
फिर भी मेरा दिल ही क्यों तड़पता है उसके लिए।



दिल-ए-नादान तुझे हुआ क्या है,
आखिर इस दर्द की दवा क्या है,


हमको उनसे है उम्मीद वफ़ा की,
जो जानते ही नहीं वफ़ा क्या है।

Dil-E-Naadaan Tujhe Hua Kya Hai,
Aakhir Is Dard Kee Dava Kya Hai,


Hamako Unase Hai Ummeed Vafa Kee,
Jo Jaanate Hee Nahin Vafa Kya Hai.



यूँ तो हर बात सहने का हौसला है इस दिल को
तेरा इक नाम ही मुझकों कमज़ोर कर देता है


खुद ही दे जाओगे तो बेहतर है
वरना..
हम दिल चुरा भी लेते है..

Yoon To Har Baat Sahane Ka Hausala Hai Is Dil Ko
Tera Ik Naam Hee Mujhakon Kamazor Kar Deta Hai


Khud Hee De Jaoge To Behatar Hai
Varana..
Ham Dil Chura Bhee Lete Hai..



न ख़ुशी अच्छी है ऐ दिल न मलाल अच्छा है,
यार जिस हाल में रखे वही हाल अच्छा है।

Na Khushee Achchhee Hai Ai Dil Na Malaal Achchha Hai,
Yaar Jis Haal Mein Rakhe Vahee Haal Achchha Hai.



Aankhon Mein Doob Jane Ko Dil Chahta Hai,
Ishq Mein Barbad Hone Ko Dil Chahta Hai,


Koi Sambhale Bahak Rahe Hain Mere Kadam,
Wafa Mein Teri Mar Jane Ko Dil Chahta Hai.


आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है,
इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है,


कोई संभाले बहक रहे है मेरे कदम,
वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है।



Dil Bhi Gustaakh Ho Chala Tha Bahut,
Shukr Hai Ki Yaar Hi Bewafa Nikla.


दिल भी गुस्ताख हो चला था बहुत,
सुक्र है कि यार ही बेवफा निकले।



Kuchh Thokaro Ke Baad Nazakat Aa Gayi Mujhme,
Ab Dil Ke Mashwaro Pe Main Bharosa Nahi Karta.


कुछ ठोकरों के बाद नज़ाक़त आ गई मुझ में,
अब दिल के मशवरों पे मैं भरोसा नहीं करता।


Inn Dino Dil Apna Sakht Be-Aaram Rehta Hai,
Isi Haalat Mein Lekar Subah Se Shaam Rehta Hai.


इन दिनों दिल अपना सख्त बे-आराम रहता है,
इसी हालत में लेकर सुबह से शाम रहता है।



Mujhe Nahi Pata Ke Ye Bigad Gaya Ya Sudhar Gaya,
Bas Ab Ye Dil Kisi Se Mohabbat Nahi Karta.


मुझे नहीं पता के ये बिगड़ गया या सुधर गया,
बस अब ये दिल किसी से मोहब्बत नहीं करता।



Kabhi Patthar Kaha Gaya Toh Kabhi Sheesha Kaha Gaya,
Dil Jaisi Ek Cheej Ko Kya Kya Kaha Gaya.


कभी पत्थर कहा गया तो कभी शीशा कहा गया,
दिल जैसी एक चीज़ को क्या-क्या कहा गया।



Lakhon Mein Intekhab Ke Kabil Bana Diya,
Jis Dil Ko Tumne Dekh Liya Dil Bana Diya,


Pehle Kahan Yeh Naaj The Yeh Ishwa-o-Adaa,
Dil Ko Duaayein Do Tumhein Qatil Bana Diya.


लाखों में इंतिख़ाब के क़ाबिल बना दिया,
जिस दिल को तुमने देख लिया दिल बना दिया,


पहले कहाँ ये नाज़ थे ये इश्वा-ओ-अदा,
दिल को दुआएँ दो तुम्हें क़ातिल बना दिया।



मुझे रिश्तो की लम्बी..
मुझे रिश्तो की लम्बी कतारों से
क्या मतलब..

कोई दिल से हो मेरा तो एक
शख्स ही काफी है ।

Mujhe Rishto Kee Lambee..
Mujhe Rishto Kee Lambee Kataaron Se
Kya Matalab..

Koee Dil Se Ho Mera To Ek
Shakhs Hee Kaaphee Hai .




TAG:
dil shayari, shayari for dil, shayari on dil, shayari dil se, dil ki shayari, zakhmi dil shayari, dil jale shayari, dil lagi shayari, ae dil hai mushkil shayari, dil bhari shayari, dil shayari hindi, dil shayari in hindi, dil tod shayari, dil wali shayari, shayari on dil ki baat, dil se shayari in hindi, dil shayari image, shayari dil ko chune wali, dil khush shayari, dil tuti shayari, dil tuta shayari in hindi, dil shayari photo, dil dard shayari, alfaaz dil ki shayari, dil dukhana shayari, dil se shayari images