Laga Ke Aag Shehar Ko, Ye Badshah Ne Ye Kaha | लगा के आग शहर को, ये बादशाह ने ये कहा


Laga Ke Aag Shehar Ko,  Ye Badshah Ne Ye Kaha | लगा के आग शहर को,  ये बादशाह ने ये कहा

लगा के आग शहर को, 
ये बादशाह ने ये कहा, 
उठा है आज दिल में तमाशे का शौक बहुत 
झुका के सर सभी शाहपरस्त बोल उठे
हुज़ूर का शौक सलामत रहे 
शहर और बहुत है

Laga Ke Aag Shehar Ko, 
Ye Badshah Ne Ye Kaha, 
Uda Hai Aaj Dil Me Tamase Ka Sauk Bahut 
Jhuka Ke Sir Sabhi Shahparast Bol Ude
Huzoor Ka Shauk Salamat Rahe
Shehar Aur Bahut Hai


...