मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये | Mushkil hai apna mel priye lyrics in english

मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये
मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये
तुम MA फर्स्ट डिविजन हो, मैं हुआ मेट्रिक फेल प्रिये
मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये

तुम फौजी अफसर की बेटी, मैं तो किसान का बेटा हूं
तुम रबड़ी खीर मलाई हो, मैं तो सत्तू सपरेटा हूं
तुम AC घर में रहती हो, मैं पेड़ के नीचे लेटा हूं
तुम नई मारुती लगती हो, मैं स्कूटर लम्ब्रेटा हूं

इस कदर अगर हम छुप छुप कर, आपस में प्यार बढ़ाएंगे
तो एक रोज तेरे डेडी, अमरीश पुरी बन जाएंगे
सब हड्डी पसली तोड़ मुझे वो भिजवा देंगे जेल प्रिये
मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये

तुम अरब देश की घोड़ी हो, मैं हूं गदहे की नाल प्रिये
तुम दीवाली का बोनस हो, मैं भूखों की हड़ताल प्रिये
तुम हीरे जड़ी तश्तरी हो, मैं एल्युमिनियम का थाल प्रिये
तुम चिकन सूप बिरयानी हो, मैं कंकड़ वाली दाल प्रिये

तुम हिरन चौकड़ी भरती हो, मैं हूं कछुए की चाल प्रिये
तुम चंदन वन की लकड़ी हो, मैं हूं बबूल की छाल प्रिये
मैं पके आम सा लटका हूं मत मारो मुझे गुलेल प्रिये
मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये

मैं शनि देव जैसा कुरूप, तुम कोमल कंचन काया हो
मैं तन से मन से कांशीराम, तुम महा चंचला माया हो
तुम निर्मल पावन गंगा हो, मैं जलता हुआ पतंगा हूं
तुम राज घाट का शांति मार्च, मैं हिन्दू-मुस्लिम दंगा हूं

मैं ढाबे के ढांचे जैसा, तुम पांच-सितारा होटल हो
मैं महुए का देसी ठर्रा, तुम ‘रेड लेबल’ की बोतल हो
तुम चित्रहार का मधुर गीत, मैं कृषि दर्शन की झाड़ी हूं
तुम विश्व सुन्दरी सी कमाल, मैं तेलिया-छाप कबाड़ी हूं

तुम सोनी का मोबाइल हो, मैं टेलीफोन वाला चोगा
तुम मछली मनसरोवर की, मैं हूं सागर तट का घोंघा
दस मंजिल से गिर जाऊंगा, मत आगे मुझे धकेल प्रिये
मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये

मुझको रेफ्री ही रहने दो, मत खेलो मुझसे खेल प्रिये
मुश्किल है अपना मेल प्रिये, ये प्यार नहीं है खेल प्रिये

Mushkil hai apana mel priye, ye pyaar nahin hai khel priye
Mushkil hai apana mel priye, ye pyaar nahin hai khel priye
Tum ma pharst divijan ho, main hua metrik phel priye
Mushkil hai apana mel priye, ye pyaar nahin hai khel priye

Tum phaujee aphasar kee betee, main to kisaan ka beta hoon
Tum rabadee kheer malaee ho, main to sattoo sapareta hoon
Tum ach ghar mein rahatee ho, main ped ke neeche leta hoon
Tum naee maarutee lagatee ho, main skootar lambreta hoon

Is kadar agar ham chhup chhup kar, aapas mein pyaar badhaenge
To ek roj tere dedee, amareesh puree ban jaenge
Sab haddee pasalee tod mujhe vo bhijava denge jel priye
Mushkil hai apana mel priye, ye pyaar nahin hai khel priye

Tum arab desh kee ghodee ho, main hoon gadahe kee naal priye
Tum deevaalee ka bonas ho, main bhookhon kee hadataal priye
Tum heere jadee tashtaree ho, main elyuminiyam ka thaal priye
Tum chikan soop birayaanee ho, main kankad vaalee daal priye

Tum hiran chaukadee bharatee ho, main hoon kachhue kee chaal priye
Tum chandan van kee lakadee ho, main hoon babool kee chhaal priye
Main pake aam sa lataka hoon mat maaro mujhe gulel priye
Mushkil hai apana mel priye, ye pyaar nahin hai khel priye

Main shani dev jaisa kuroop, tum komal kanchan kaaya ho
Main tan se man se kaansheeraam, tum maha chanchala maaya ho
Tum nirmal paavan ganga ho, main jalata hua patanga hoon
Tum raaj ghaat ka shaanti maarch, main hindoo-muslim danga hoon

Main dhaabe ke dhaanche jaisa, tum paanch-sitaara hotal ho
Main mahue ka desee tharra, tum ‘red lebal’ kee botal ho
Tum chitrahaar ka madhur geet, main krshi darshan kee jhaadee hoon
Tum vishv sundaree see kamaal, main teliya-chhaap kabaadee hoon

Tum sonee ka mobail ho, main teleephon vaala choga
Tum machhalee manasarovar kee, main hoon saagar tat ka ghongha
Das manjil se gir jaoonga, mat aage mujhe dhakel priye
Mushkil hai apana mel priye, ye pyaar nahin hai khel priye
Mujhako rephree hee rahane do, mat khelo mujhase khel priye
Mushkil hai apana mel priye, ye pyaar nahin hai khel priye